Category Archives: Hindi

दो ज़माने, एक कप चाय / Two Generations, One Cup Chai

दादाजी और उनके पोते के बीच में वार्तालाप

A Conversation between a Grandfather and his Grandson

“वह थे दिन, जब इस देश की मिटटी
शहीदों की यादों से चमक उठी थी ।
आज कल तोह आग कहाँ ?
दिया भी नहीं जलता । ”
“क्युंकी उस दिये की ज्योती से याद आती है
वीरों की खाक
Continue reading दो ज़माने, एक कप चाय / Two Generations, One Cup Chai

Advertisements